Prayagraj : नेताजी की जयंती पर बनाई जाएगी 50 किमी लंबी मानव श्रृंखला

डीएम ने दिए निर्देश, 23 जनवरी को होंगे जागरुकता के विविध कार्यक्रम
तहसील पर दस और ब्लाक स्तर पर 10 किमी लंबी होगी मानव श्रृंखला
आलोक गुप्ता
प्रयागराज: (Prayagraj) नेताजी सुभाषचंद्र बोस की जयंती 23 जनवरी को पूरे जोश और उत्साह के साथ मनाई जाएगी। 23 को जिला मुख्यालय, तहसील मुख्यालय और ब्लाक मुख्यालय पर मानव श्रृंखला बनाई जाएगी, साथ ही जागरुकता के तमाम कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। जिलाधिकारी ने नेताजी की जयंती को पूरी भव्यता के साथ आयोजित किएजाने का निर्देश दिया है। संगम सभागार में हुई बैठक में जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री ने सड़क सुरक्षा माह के तहत ही जयंती के अवसर पर विद्यालयों में कक्षा-8 से 12 तक एवं उच्च शिक्षा के विद्यार्थिंयों के साथ मानव श्रृंखला बनाने एवं सड़क सुरक्षा शपथ दिलवाने के लिए निर्देशित किया। जिलाधिकारी ने मानव श्रृंखला कार्यक्रम में समस्त विभागों के अधिकारी, कर्मचारी, एनजीओ, स्वयंसेवी संस्थाओं, सामाजिक संगठनों, एनएसएस, एनसीसी, स्काउट गाइड सहित अन्य आम जनमानस की भागीदारी सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।
जिलाधिकारी ने सिविल लाइन स्थित सुभाषचंद्र बोस चैराहे से व्यापक स्तर पर मानव श्रृंखला का आयोजन किए जाने के लिए आवश्यक व्यवस्था दुरुस्त करने को कहा। उन्होंने इस अवसर पर सुभाष चौराहे को केंद्र बिंदु मानते हुए वहां से जाने वाली सड़कों व शहर की अन्य सड़कों पर कुल मिलाकर 50 किमी की श्रृंखला बनाने की तैयारी के लिए निर्देशित किया है। इसी तरह से प्रत्येक तहसीलों में 10 किमी एवं ब्लाकों में 05 किमी मानव श्रृंखला बनाने का निर्देश दिया गया है।
कहा, मानव श्रृंखला इस प्रकार से बनवाई जाए, जिससे यातायात बाधित न होने पाए। बैंडबाजे के साथ-साथ सुभाष चौराहे को सजानेका भी निर्देश दिया है। जिलाधिकारी ने मानव श्रृंखला में कुछ बच्चों को नेता सुभाषचंद्र बोस के पोशाक में प्रतिभाग किए जाने के लिए डीआईओएस को निर्देशित किया है।
उन्होंने सड़क सुरक्षा के बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए मानव श्रृंखला में प्रतिभाग करने वाले बच्चों को सड़क सुरक्षा से संबंधित पोस्टर बनाकर प्रदर्शित करने के लिए कहा है। अच्छा पोस्टर बनाने वाले बच्चों को विद्यालय स्तर पर पुरस्कृत किया जाएगा। इस मौके पर एडीएम सिटी मदन कुमार, संभागीय परिवहन अधिकारी, पुलिस विभाग के अधिकारीगण मौजूद रहे।

Leave a Comment