MUMBAI : महाराष्ट्र के 4 पुलिस अधिकारियों को ‘राष्ट्रपति पुलिस पदक’
31 शौर्य पदक; राज्य के नाम आए कुल 74 पदक

मुंबई : गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या को केंद्रीय गृहमंत्रालय की ओर से पुलिस पदकों का ऐलान कर दिया गया है. महाराष्ट्र पुलिस ने 74 पुलिस मेडल्स पाने का गौरव हासिल किया है. चार पुलिस अधिकारियों को ‘राष्ट्रपति पुलिस पदक‘ दिया गया है. 31 पुलिसकर्मियों को शौर्य पदक मिला है और 39 पुलिसकर्मियों को अपनी सेवा में उच्च मापदंड रखने के लिए पुलिस पदक दिया गया है. जिन चार पुलिस अधिकारियों को राष्ट्रपति पुलिस पदक से सम्मानित किया गया है, उनमें से एक उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के करीबी मुंबई के स्पेशल पुलिस कमिश्नर देवेन भारती भी शामिल हैं. गणतंत्र दिवस के अवसर पर देश के कुल 901 पुलिसकर्मियों को पुलिस मेडल दिए गए हैं. इनमें से 140 पुलिस कर्मचारियों को उनके शौर्य के लिए पुलिस पदक का ऐलान किया गया है और 93 पुलिसकर्मियों को विशेष सेवा के लिए राष्ट्रपति पदक देने की घोषणा की गई है. इनके अलावा अपनी सेवा में उच्च मापदंड रखने के लिए 668 पुलिस कर्मचारियों को पुलिस पदक दिए गए हैं.

महाराष्ट्र के इन पुलिसकर्मियों की सेवा अहम समझी गई
मुंबई के विशेष पुलिस आयुक्त देवेन भारती, राज्य के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अनूप कुमार सिंह, मुंबई के पुलिस उप निरिक्षक संभाजी देशमुख और ठाणे के उपनिरीक्षक दीपक जाधव, इन चार पुलिस अधिकारियों को राष्ट्रपति पुलिस पदक पाने का गौरव हासिल हुआ है. इनके अलावा नासिक पुलिस आयुक्तालय के मध्यवर्ती अपराध शाखा के सहायक पुलिस उप निरिक्षक दत्तात्रय कडनोर और सुखदेव मुरकुटे को सेवा का उच्च मापदंड रखने के लिए पुलिस पदक से सम्मानित किया गया है.

शौर्य पदक पाने वाले 140 पुलिसकर्मियों में से 80 नक्सलग्रस्त और आतंकी प्रभाव वाले इलाकों से
जिन पुलिस कर्मचारियों को शोर्य पुरस्कार से सम्मानित किया गया है, उन 140 कर्मचारियों में से 80 लोग नक्सलग्रस्त और आंतकवाद से प्रभावित इलाकों में तैनात हैं. शौर्य पदक पाने वाली पुलिस टीम में अव्वल नंबर सीआरपीएफ को मिला है. सीआरपीएफ को 48 पदक मिले हैं. शौर्य पदक के मामले में महाराष्ट्र ने शानदार उपलब्धि हासिल करते हुए 31 पदक अपने नाम किया है. इसके बाद जम्मू-कश्मीर में तैनात 25, झारखंड में तैनात 9 पुलिसकर्मियों ने शौर्य पदक हासिल किए हैं. इनके अलावा दिल्ली, छत्तीसगढ़, बीएसएफ के सात-सात जवान हैं. बाकी पुलिकर्मी अन्य राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों और सीएपीएफ के हैं.

55 पुलिसकर्मियों को होमगार्ड और सिविल डिफेंस मेडल से सम्मानित
इनके अलावा 55 पुलिसकर्मियों को होमगार्ड और सिविल डिफेंस मेडल से सम्मानित किया गया है. यह शौर्य पदक नागरिक सुरक्षा के लिए शौर्य को ध्यान में रख कर दिया जाता है. उत्कृष्ट सेवा और नागरिक सुरक्षा के लिए राष्ट्रपति के हाथों से विशिष्ट सेवा और नागरिक सुरक्षा पदक दिए जाते हैं. ये पदक 9 जवानों को उच्च मापदंडों वाली सेवाओं के लिए और 45 पुलिसकर्मियों को नागरिक सुरक्षा के लिए दिए जाते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *