spot_img
HomeHisarHisar : दो माह में खुलेंगी सौ नई व्यायामशालाएं : नायब सैनी

Hisar : दो माह में खुलेंगी सौ नई व्यायामशालाएं : नायब सैनी

हिसार: (Hisar ) मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी (Chief Minister Naib Singh Saini) ने कहा है कि आने वाले 60 दिनों में प्रदेश में 100 व्यायामशालाएं स्थापित की जाएगी। इनमें कार्यरत योग सहायक नागरिकों को योग करवाएंगे और फिर आयुष डिस्पेंसरी में जाकर मरीजों को योग के प्रति जागरूक करेंगे। इसके अलावा प्रदेश सरकार ने इन योग सहायकों को डायटिशियन का प्रशिक्षण देने का भी निर्णय लिया है ताकि वे डिस्पेंसरी में मरीजों को खान-पान बारे जानकारी दे सके।

मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी शुक्रवार सुबह अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर यहां आयोजित प्रदेश स्तरीय योग दिवस कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इससे पहले उन्होंने दीप प्रज्ज्वलित करके कार्यक्रम का शुभारंभ किया। उन्होंने नागरिकों को योग दिवस की शुभकामनाएं देते हुए योग को पार्ट आफ लाइफ नहीं बल्कि वे आफ लाइफ बताते हुए कहा कि योग को अपनाकर ही हम स्वस्थ्य रह सकते हैं।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 में तत्कालीन मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेश में 1121 स्थानों को चिन्हित करके व्यायामशालाएं खोली और खुशी की बात है कि इनमें से 714 व्यायामशालाओं में नियमित योग हो रहा है। उन्होंने घोषणा की कि आने वाले 60 दिनों में 100 व्यायामशालाएं और खोली जाएंगी, इनमें योग सहायकों की नियुक्ति होगी।

ये योग सहायक योग सिखाने के बाद चार बजे तक डिस्पेंसरी में भी अपनी सेवाएं देंगे। इसके साथ ही सरकार ने योग सहायकों को डायटिशियन का प्रशिक्षण देने का निर्णय लिया है ताकि वे आयुष डिस्पेंसरी में आने वालेे मरीजों को डाइट व उचित खानपान की जानकारी दे सके। मुख्यमंत्री ने कि योग को अपनाकर ही मनुष्य स्वस्थ्य रह सकता है। योग से विकास की गति भी तेज होती है क्योंकि यदि कोई बीमार हो गया तो विकास में बाधा पड़ना निश्चित है। ऐसे में सरकार का प्रयास है कि योग को गांव-गांव व घर-घर तक पहुंचाएं ताकि स्वस्थ्य हरियाणा बनाया जा सके।

मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी ने कहा कि योग वर्तमान में जीवन का सार बन चुका है। पूरी दुनिया ने योग को जीवन में उतारा है। योग हमारी प्राचीन पद्धति रही है और हमारे ऋषि मुनि इसे अपनाते रहे हैं। कुछ वर्षों में योग पद्धति लुप्त हो गई थी और हम पाश्चात्य की ओर बढ़ने लगे थे लेकिन योग ऋषि स्वामी रामदेव ने योग की ज्योत फिर से जलाई और जनता को जागरूक किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने यूएनओ में योग दिवस का प्रस्ताव रखा तो प्रथम बार में ही 177 देशों ने इसका समर्थन किया और आज खुशी की बात है कि 200 से ज्यादा देश योग को अपना चुके हैं। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति किसी ने किसी रूप में योग से जुड़ा है। योग बहुत सारी बीमारियों को दूर कर देता है। कोरोना काल में जब तक कोई वैक्सीन नहीं आई थी, तब तक केवल योग ही दवाई थी। कोरोना कॉल में योग ही हमारे लिए संबल बनकर आया और कोरोना संकट का हमने मुकाबला किया।

कार्यक्रम में स्वास्थ्य मंत्री डॉ. कमल गुप्ता, डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा, पूर्व राज्यसभा सांसद डॉ. डीपी वत्स, हरियाणा योग आयोग के अध्यक्ष डॉ. जयदीप आर्य, उपायुक्त प्रदीप दहिया, पुलिस अधीक्षक मोहित हांडा, भाजपा जिला अध्यक्ष आशा खेदड़, आयुष निदेशक सुधीर राजपाल, भाजपा नेता रणधीर पनिहार सहित अनेक नेता, कार्यकर्ता व योग साधकों के अलावा जिला प्रशासन के अधिकारी, कर्मचारी मौजूद रहे। संबोधन के पश्चात मुख्यमंत्री, मंत्री सहित अन्य ने योग भी किया। तत्पश्चात सभी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संबोधन सुना।

spot_imgspot_imgspot_img
इससे जुडी खबरें
spot_imgspot_imgspot_img

सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली खबर