Washington: भारत को उद्यमशीलता के लिए और प्रयास की जरूरत: अमेरिकी वैज्ञानिक

वाशिंगटन: (Washington) अमेरिका की शीर्ष विज्ञान संस्था की मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) माया अजमेरा ने कहा है कि भारत के पास बहुत प्रतिभा है लेकिन उसे उद्यमिता के लिए एक पारिस्थितिकी तंत्र का निर्माण करने और उसे पोषित करने के लिए और प्रयास करने की जरूरत है।

‘सोसाइटी फॉर साइंस’ की अध्यक्ष एवं सीईओ और इस संस्था की पुरस्कार विजेता पत्रिका ‘साइंस न्यूज’ की प्रकाशक ने बुधवार को ये टिप्पणियां कीं। अमेरिका में हाई स्कूल की एक प्रतिष्ठित विज्ञान एवं गणित प्रतियोगिता की अंतिम सूची में जगह बनाने वाले 40 किशारों में पांच भारतीय-अमेरिकी किशोरों ने भी जगह बनाई है। इसी के मद्देनजर अजमेरा ने कहा कि भारत के लोगों में बहुत प्रतिभा है, लेकिन उसे उद्यमिता के लिए एक पारिस्थितिकी तंत्र का निर्माण करने और उसे पोषित करने के लिए और प्रयास करने की जरूरत है।

अजमेरा ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘मेरे लिए दिलचस्प बात यह है कि बड़ी संख्या में दक्षिण एशियाई अमेरिकी या भारतीय-अमेरिकी असाधारण शोध कर रहे हैं। उन्होंने हमारे शीर्ष 40 (प्रतिष्ठित ‘रीजेनरॉन साइंस टैलेंट सर्च’ के फाइनल में) में भी जगह बनाई है।’’

इस प्रतियोगिता की अंतिम सूची में वैज्ञानिकों को उनकी परियोजनाओं की वैज्ञानिक दृढ़ता और विश्व में बदलाव लाने वाले वैज्ञानिक नेता बनने की उनकी क्षमता के आधार पर चुना जाता है।

इस सूची में भारतीय-अमेरिकियों के शामिल होने पर खुशी जताते हुए अजमेरा ने कहा, ‘‘भारतीय और दक्षिण एशियाई मूल के सदस्य निश्चित रूप से अपनी पहचान बना रहे हैं।’’

अजमेरा के पिता इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में पीएचडी करने के लिए अमेरिका आए थे और उनकी मां एक उद्यमी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *