Homecrime newsJaipur : कम्प्यूटर सेंटर की आड़ में कॉल सेंटर खोल ग्लोबल सॉल्यूशन...

Jaipur : कम्प्यूटर सेंटर की आड़ में कॉल सेंटर खोल ग्लोबल सॉल्यूशन के नाम से ऑनलाइन ठगी करने वाले चढे पुलिस के हत्थे

जयपुर : मुहाना और सोडाला इलाक में कम्प्यूटर सेंटर की आड़ में कॉल सेंटर खोल कर ग्लोबल सॉल्यूशन के नाम से ऑनलाइन ठगी करने वाले साइबर गिरोह का खुलासा कर कर पुलिस ने पच्चीस युवक-युवतियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस की प्रारंभिक पूछताछ मे इन लोगों ने देश में लाखों लोगों से ग्लोबल सॉल्यूशन के नाम से ऑनलाइन ठगी करने की बात स्वीकार की है। फिलहाल गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।

पुलिस उपायुक्त जयपुर योगेश गोयल ने बताया कि पुलिस मुख्यालय से मिले इनपुट के बाद रविवार को दक्षिण जिला पुलिस ने मुहाना और सोडाला इलाके पर दबिश देकर कॉल सेंटरों पर कार्रवाई की। पहली कार्रवाई मुहाना इलाके में की गई। यहां से पुलिस ने जीतू सिंह, विक्रम चौधरी, जय प्रकाश, दीपक शर्मा, राधेश्याम वर्मा, गुड्डु सिंह, पवन बैरवा, आरती पटेल, भारती पटेल, आशा, सोनिया, किरण कंवर, प्रिया शर्मा, रेखा कुमावत, सिया वर्मा, रिया वर्मा, भूमिका सैनी, सविता राठौड़, सुष्मिता राठौड़, प्रिया राजपूत को गिरफ्तार किया गया है। गिरफतार सभी आरोपित जयपुर निवासी है और अलग-अलग जगहों पर रहते है। पुलिस ने 48 कम्प्यूटर, 30 मोबाइल फोन, सिम कार्ड, वीजा कार्ड, बैंक पासबुक, एटीएम कार्ड, बार कोड, लैपटॉप बरामद किए हैं। गिरफ्तार आरोपित 1 हजार 945 रुपए में आधार कार्ड बनवाने जैसी 100 सेवाएं देने का दावा किया जाता। इतने कम रुपए में सेवा मिलने पर लोग इनके चंगुल में फंस जाते थे। इसके बाद युवक-युवतियां लोगों को ठग लेते थे। ऑनलाइन ठगी का मास्टरमाइंड जीतू है। वहीं उसके दो साथी आरिफ और मोहित वर्मा की तलाश की जा रही है। प्रारंभिक पूछताछ में इन बदमाशों ने बताया कि यह लोग देशभर में ग्लोबल सॉल्यूशन के नाम से ऑनलाइन ठगी करते हैं। इन लोगों ने ग्लोबल सॉल्यूशन के नाम से गूगल में रजिस्ट्रेशन करवा रखा हैं। आरोपी ग्लोबल सॉल्यूशन के जरिए 1 हजार 945 रुपए में 100 प्रकार की सेवाएं देने का दावा करते थे। इसमें ऑनलाइन आधार कार्ड बनाना, जन्म-मृत्यु प्रमाणपत्र बनाना, ई-मित्र की सभी प्रकार की सेवाएं, क्रेडिट-डेबिट कार्ड को बंद और शुरू करना, बिजली, पानी, मोबाइल, डीटीएच रिचार्ज करने का दावा किया करते थे। हर व्यक्ति इतनी कम कीमत में सभी सेवाएं मिलने पर लोग इनके चंगुल में फंस जाता था। पुलिस जांच में सामने आया है कि जीतू,आरिफ और मोहित वर्मा ने मिल कर यह काम शुरू किया था। पुलिस छापेमारी के दौरान पुलिस ने जीतू को पकड़ा, लेकिन उसके दो अन्य साथी मोहित वर्मा और आरिफ भाग निकले। उनकी तलाश की जा रही हैं। वहीं दूसरी कार्रवाई सोडाला इलाके में स्थित ऑर्बिट मॉल में की गई। जहां से फिरोज खान, अली शेर, मोहम्मद सहूद, औसामा नकवी और अजय शर्मा को गिरफ्तार किया गया है और सभी आरोपित जयपुर निवासी है। मौके से पुलिस ने 8 कंप्यूटर, 8 मोबाइल, एक लैपटॉप जब्त किया। पुलिस टीम सभी आरोपियों से पूछताछ कर रही है।

spot_imgspot_imgspot_img
इससे जुडी खबरें
spot_imgspot_imgspot_img

सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली खबर