Prayagraj/Pratapgarh : फिर लुढ़का पारा, ठंड हवाओं से बढ़ी ठिठुरन में अलाव बना सहारा

आलोक गुप्ता
प्रयागराज/प्रतापगढ़: (Prayagraj/Pratapgarh)
मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक मौसम ने एक बार फिर करवट ले ली है। पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी से न्यूनतम तापमान सामान्य से काफी नीचे चला गया है। हालांकि राहत वाली बात यह है कि दिन में धूप निकलने से थोड़ी राहत बनी हुई है, लेकिन धूप से हटते ही फिर से शरीर ठिठुरने लग जाता है। मंगलवार को न्यूनतम पारा पांच डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। जबकि मकर संक्रांति के आसपास यही पारा ऊपर चला गया था।
ठंड हवाओं के चलने से वातावरण में ठिठुरन बनी हुई है। आज सुबह ग्रामीण क्षेत्रों में कोहरे काभी असर देखने को मिला। हालांकि सुबह के आठ-नौ बजने तक वातावरण पूरी तरह से साफ हो गया। ठंड में इजाफा होने से रेलवे जंक्शन, बस स्टैंड, सार्वजनिक स्थलों के साथ-साथ माघ मेला क्षेत्र में लोग कड़ी धूप निकलने तक अलाव के सहारे समय काटते नजर आए।
इविवि के प्रो. शैलेंद्र राय ने बताया कि इन दिनों पहाड़ों पर भारी बर्फबारी हो रही है। उसी का असर उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में देखने को मिल रहा है। बताया कि इस बर्फबारी केकारण आने वाले सप्ताहभर ऐसेही मौसम बना रहेगा। यह मौसम खेती-किसानी के लिहाज से ठीक है। क्योंकि न्यूनतम पारा नीचे जरूर है, लेकिन फिलहाल के लिए प्रयागराज और आसपास के जनपदों में दिन में धूप निकल रही है।
दूसरी तरफ पड़ोसी जनपद प्रतापगढ़ में भी तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गई है। प्रतापगढ़ में 17 जनवरी को न्यूनतम तापमान 3.5 डिग्री और अधिकतम पारा 25 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। कमोवेश यही स्थिति 18 जनवरी को भी रही। सनई अनुसंधान केंद्र के मौसम विशेषज्ञ देशराज मीना ने बताया कि मंगलवार को प्रतापगढ़ में न्यूनतम तापमान 3.2 डिग्री और अधिकतम 25 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *