Homebusiness-mrBUSINESSNew Delhi : कैट को अंतरिम बजट से लाभकारी व्यापारिक नीतियों की...

New Delhi : कैट को अंतरिम बजट से लाभकारी व्यापारिक नीतियों की घोषणा की उम्मीद

नई दिल्ली : (New Delhi) देश के प्रमुख कारोबारी संगठन कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (business organization Confederation of All India Traders) (कैट) को एक फरवरी को पेश होने वाले अंतरिम बजट का बेसब्री से इंतजार है। कैट ने अंतरिम बजट में खुदरा व्यापार एवं लघु उद्योगों सहित अर्थव्यवस्था के अन्य सेक्टरों में वृद्धि के लिए मज़बूत नीतियों की घोषणा करने की उम्मीद जताई है।

कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने मंगलवार को जारी एक बयान में कहा कि इस बार अंतरिम बजट में आर्थिक विकास पर जोर दिए जाने की उम्मीद हैं। खंडेलवाल ने कहा कि व्यापारियों को कारोबार के लिए कर सुधार और प्रोत्साहन के माध्यम से खुदरा व्यापार को बढ़ावा दिये जाने की आशा है। उन्होंने कहा कि कारोबारियों को उम्मीद है कि अंतरिम बजट में ऐसे कदम उठाए जाएंगे, जो उपभोक्ता खर्च को बढ़ावा देने, व्यापार गतिविधियों को बढ़ाने के लिए एक साकारात्मक वातावरण पैदा करने में सहायक हो।

खंडेलवाल ने कहा कि देश का बुनियादी ढांचा, विकास का मुख्य क्षेत्र है। इसकी वजह यह सीधे तौर पर लॉजिस्टिक और सप्लाई चेन को प्रभावित करता है। कैट महामंत्री ने कहा कि इसलिए व्यापारिक समुदाय इंफ्रास्ट्रक्चर परियोजनाओं में ज्यदा धन का आवंटन करने की उम्मीद करता है, जो परिवहन को संघटित कर, लागतों को कम करते हुए देश की कुल व्यापार क्षमता को बढ़ावा दे सकते हैं।

कैट महामंत्री ने कहा कि वैश्विक आर्थिक परिदृश्य को ध्यान में रखते हुए व्यापारियों ने सरकार से ऐसी नीतियों की उम्मीद जताई है, जो भारत को अंतरराष्ट्रीय व्यापार में मजबूती दे। उन्होंने कहा कि व्यापार मित्र नीति, व्यापार समस्याओं का समाधान करने के लिए राजनयिक प्रयास और उभरते बाजारों का शीघ्रता से उपयोग करने के लिए रणनीतिक पहलुओं की चर्चा भी बजट में होने की संभावना दिखाई देती है।

खंडेलवाल ने कहा कि कारोबारियों को इसके अलावा ई-कॉमर्स नियमों और डिजिटल व्यापार नीतियों पर स्पष्टता का इंतजार है। उन्होंने कहा कि आज ऑनलाइन प्लेटफॉर्म की बढ़ती महत्व के साथ व्यापारिक समुदाय संतुलित प्रतिस्पर्धा के साथ वृद्धि के अवसरों को बनाए रखने के लिए एक विनियमन ढांचा चाहता है, जिसकी घोषणा अंतरिम बजट में होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि व्यापार में तकनीक की भूमिका को कम नहीं किया जा सकता है। ऐसे में व्यापारी समुदाय उन उपायों की वकालत करता है, जो डिजिटल बुनियादी ई-शासन, और डिजिटल साक्षरता को बढ़ावा देने की है। खंडेलवाल ने कहा कि तकनीक को एकीकृत करना व्यापार प्रक्रियाओं को सुगम बना सकता है, पेपरवर्क को कम कर सकता है और कारोबार करने की सामान्य सुविधा को बढ़ाया जा सकता है। कैट महामंत्री ने कहा कि कुल मिलाकर व्यापारिक समुदाय को उम्मीद है कि अंतरिम बजट संपूर्ण दृष्टिकोण को प्रतिबिंबित करेगा, सीधे चिंताओं के सिवाय विकास, अंतरराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा और तकनीक का सहारा लेकर व्यापार इकोसिस्टम को आगे बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करेगा।

spot_imgspot_imgspot_img
इससे जुडी खबरें
spot_imgspot_imgspot_img

सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली खबर