Wednesday, September 27, 2023
HomeEducationNainital : नैक के मूल्यांकन से नहीं बच पायी कुमाऊं विश्वविद्यालय की...

Nainital : नैक के मूल्यांकन से नहीं बच पायी कुमाऊं विश्वविद्यालय की ‘नाक’, अब कल से होगा पुर्नमूल्यांकन

नैनीताल : यूजीसी यानी विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की नैक यानी राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद की टीम सोमवार 4 सितंबर से अगले तीन दिन कुमाऊं विश्वविद्यालय का पुर्नमूल्यांकन करेगी।

यह पहली बार होगा जब पूर्व में नैक से ‘ए’ ग्रेड प्राप्त रहे कुमाऊं विश्वविद्यालय को पुर्नमूल्यांकन की स्थितियों से गुजरना पड़ रहा है। बताया जा रहा है कि इसका कारण विश्वविद्यालय की ओर से नैक को भेजे गए और नैक टीम के अपने पिछले भेजे गए 15 से 17 मई के निरीक्षण में तय सीमा से अधिक अंतर दिखना रहा है। ऐसे में नैक टीम अब पुनः 4, 5 और 6 सितंबर से कुमाऊं विवि का पुनर्मूल्यांकन करेगी। कुमाऊं विश्वविद्यालय ने नैक टीम के दौरे को देखते हुए इस दौरान पीएचडी की मौखिक परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं।

उल्लेखनीय है कि नैक टीम के पिछले मूल्यांकन के दौरान नैक टीम के चेयरमैन प्रो. अमर राय (पूर्व कुलपति, मिजोरम यूनिवर्सिटी एवं नार्थ-ईस्टर्न हिल यूनिवर्सिटी) ने देवदार सभागार में एग्जिट मीटिंग के द्वारा कहा कि कुमाऊं विश्वविद्यालय में अभी बहुत कुछ करना बाकी है। यह शिक्षकों को तय करना है कि वह खुद को और विश्वविद्यालय को कहां तक लेकर जाना चाहते हैं। प्रो. राय के इस इशारे के बाद कुमाऊं विश्वविद्यालय को नैक के पुर्नमूल्यांकन से गुजरना पड़ रहा है।

उल्लेखनीय है कि पहले मूल्यांकन के दौरान कुमाऊं विश्वविद्यालय के कुलपति का कार्यभार पंतनगर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. मनमोहन सिंह अतिरिक्त और अस्थायी तौर पर संभाल रहे थे, लेकिन अब जबकि कुमाऊं विश्वविद्यालय को अगले 3 वर्षों के लिए कुमाऊं मंडल के ही निवासी प्रो. दीवान सिंह रावत संभाल रहे हैं, ऐसे में देखने वाली बात होगी कि अब नैक टीम कुमाऊं विश्वविद्यालय की पुर्नमूल्यांकन में कैसी छवि पाती है और इसे किस रैंक के योग्य मानती है।

इससे जुडी खबरें

सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली खबर