MUMBAI : महाराष्ट्र कांग्रेस में घमासान
कांग्रेस ने निर्दलीय नामांकन दाखिल करने वाले सत्यजीत को निलंबित किया

मुंबई : महाराष्ट्र में होने वाले एमएलसी चुनाव से पहले कांग्रेस में आपस में ही तनातनी शुरू हो गई है। कांग्रेस ने पार्टी से बगावत करने वाले सत्यजीत तांबे को गुरुवार को निलंबित कर दिया। तांबे ने विधान परिषद चुनाव के लिए नासिक संभाग स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर नामांकन दाखिल कर दिया था। पार्टी ने तांबे को छह साल के लिए निलंबित कर दिया। यह जानकारी महाराष्ट्र कांग्रेस के महासचिव देवानंद पवार द्वारा सत्यजीत तांबे को लिखे एक पत्र से सामने आई। पत्र में कहा गया, ‘आपने महाराष्ट्र विधान परिषद के नासिक डिवीजन स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के चुनावों में बगावत की है। यह पार्टी के अनुशासन का उल्लंघन है। प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले के आदेश के अनुसार, आपको छह साल के लिए पार्टी से निलंबित कर दिया गया है।’

नाना पटोले ने पहले ही की थी घोषणा
इससे पहले प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले ने गुरुवार को कहा था कि कांग्रेस निर्दलीय के रूप में नामांकन दाखिल करने वाले सत्यजीत तांबे को निलंबित करेगी।

रविवार को सत्यजीत तांबे के पिता को निलंबित कर दिया था
मुंबई में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए पटोले ने एमवीए के पांच उम्मीदवारों के नामों की भी घोषणा की। इन्हें महा विकास अघाड़ी के शामिल कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना (उद्धव गट) समर्थन करेंगे। कांग्रेस ने रविवार को सत्यजीत तांबे के पिता और तीन बार के एमएलसी सुधीर तांबे को निलंबित कर दिया था। दरअसल, इन्होंने चुनाव के लिए खुद नामांकन दाखिल नहीं किया था बल्कि अपने बेटे को निर्दलीय के रूप में मैदान में उतार दिया था।

मतदान 30 जनवरी को होगा
विधान परिषद के पांच सदस्यों का कार्यकाल सात फरवरी को समाप्त हो रहा है। इनमें दो स्नातक और तीन शिक्षकों के निर्वाचन क्षेत्र हैं। उच्च सदन के नए सदस्यों का चुनाव करने के लिए मतदान 30 जनवरी को होगा और मतगणना दो फरवरी को होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *