spot_img
Homecrime newsMumbai : जामनेर में बालिका हत्याकांड से गुस्साई भीड़ ने थाने पर...

Mumbai : जामनेर में बालिका हत्याकांड से गुस्साई भीड़ ने थाने पर किया हमला, 18 पुलिसकर्मी घायल, 10 गिरफ्तार

मुंबई : जलगांव जिले के जामनेर तहसील के चिंचखेड़ा में एक छह वर्षीय बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या के बाद गुस्साई भीड़ ने गुरुवार की रात थाने पर हमला कर दिया। इस हमले में 18 पुलिस कर्मी घायल हुए हैं, जिन्हें जामनेर और जलगांव के अस्पतालों में भर्ती करवाया गया है। इस घटना के बाद पुलिस ने 10 हमलावरों को गिरफ्तार कर लिया है। जामनेर में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। शुक्रवार को पुलिस ने पूरे इलाके में मार्च किया है। इलाके में तनावपूर्ण शांति बनी हुई है।

पुलिस के अनुसार जामनेर के निंभोरा गांव की छह वर्षीय बच्ची की चिंचखेड़ा में आरोपित सुभाष उमाजी भील ने दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी और फरार हो गया था। इसके बाद जामनेर पुलिस ने आरोपित को गुरुवार को भुसावल से गिरफ्तार कर उसे थाने लाई थी। इसकी जानकारी मिलते ही जामनेर के निवासियों का आक्रोश फूट पड़ा और गुरुवार रात को ही जामनेर पुलिस स्टेशन के बाहर बड़ी संख्या में भीड़ उमड़ पड़ी और आरोपित को सौंपने की मांग करने लगी। पुलिस ने आक्रोशित भीड़ को समझाने का प्रयास किया लेकिन भीड़ ने पुलिस स्टेशन पर पथराव शुरू कर दिया। भीड़ के हमले से पुलिस निरीक्षक किरण शिंदे, रामदास कुंभार, सुनील दीपचंद राठौड़, रमेश शंकर कुमावत, प्रीतम सुधाकर बराकले, हितेश गणेश महाजन, संजय शांताराम खंडारे, अतुल सुभाष पवार, आकाश गोकुल पाटिल, भावेश प्रकाश देवरे, कृष्णा नामदेव शेलके, मेहून मनोज कुमार शाह, राहुल प्रमोद निकम, उत्तम विठोबा चौधरी, किरण चंदूकर, दीपक करभारी रोटे, विजय सुनील काले, जीतेंद्र नाथू ठाकरे घायल हो गए। इन सभी काे जामनेर और जलगांव में भर्ती कराया गया।

शुक्रवार को कलेक्टर आयुष कुमार ने घायलों से मुलाकात की। इस घटना के बाद पूरे इलाके में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया। पुलिस ने कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए पूरे शहर में मार्च किया। जलगांव की अपर पुलिस अधीक्षक कविता नेरकर ने लोगों से इलाके में शांति बनाए रखने की अपील की है।

जलगांव जिले के अपर पुलिस अधीक्षक अशोक नखाते ने बताया कि पुलिस पर पथराव करने वालों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है और सीसीटीवी के फुटेज के माध्यम से आरोपितों को चिन्हित कर उन्हें गिरफ्तार किया जा रहा है। नखाते ने बताया कि अब तक दस आरोपितों को गिरफ्तार किया जा चुका है, जबकि अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी की प्रक्रिया चल रही है। अशोक नखाते ने यह भी कहा कि पुलिस पर पथराव करने वाले किसी भी आरोपित को बख्शा नहीं जाएगा।

spot_imgspot_imgspot_img
इससे जुडी खबरें
spot_imgspot_imgspot_img

सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली खबर