HomelatestLucknow: हमने यूपी को बीमारू मानसिकता से उबारा, अब नए औद्योगिक क्रांति...

Lucknow: हमने यूपी को बीमारू मानसिकता से उबारा, अब नए औद्योगिक क्रांति की ओर : योगी

आत्मनिर्भर भारत की आधारशिला है ओडीओपी, बनी देश की यूनिक योजना

उप्र इंटरनेशनल ट्रेड शो के द्वितीय संस्करण की कर्टेन रेजर सेरेमनी नई पहल

लखनऊ: (Lucknow) मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को कहा कि आज उत्तर प्रदेश नए औद्योगिक क्रांति की ओर है। उत्तर प्रदेश को बीमारू राज्य बनाना एक राजनीतिक मानसिकता थी, जिसे खत्म करके हमने इसे देश की दूसरे नंबर की अर्थव्यवस्था बनाया है।

उन्होंने कहा कि इतना कुछ उप्र में है, तब भी लोग कहते थे उप्र बीमार है। दुनिया देखे तो उप्र में क्या नहीं है। अब उत्तर प्रदेश बीमारू राजनीतिक मानसिकता से उभरकर देश के अग्रणी अर्थव्यवस्था के रूप में स्थापित हो गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में परंपरागत कारीगर, शिल्पकार और युवा उद्यमी जो पहले निराश था आज उसके चेहरे पर उत्साह दिखता है। उत्तर प्रदेश की ओडीओपी योजना आज आत्मनिर्भर भारत की आधारशिला बन चुकी है।

यह बातें वह लोकभवन में उप्र इंटरनेशनल ट्रेड शो के द्वितीय संस्करण की कर्टेन रेजर सेरेमनी को संबोधित करते हुए कही।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में हजारों वर्षों से विरासत के रूप में सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम की अनेक इकाईयां मौजूद थीं, लगातार सरकारी उपेक्षा व इंस्पेक्टर राज के कारण यह प्रताड़ित थी, बंद होने के कगार पर थी। उत्तर प्रदेश के हस्तशिल्प, कारीगर व युवा उद्यमियों के पास क्षमता थी, लेकिन उन्हें शासन से प्रोत्साहन और प्लेटफार्म की आवश्यकता थी। आज डबल इंजन की सरकार में परिणाम सबके सामने है। 2018 में उप्र ने ओडीओपी योजना प्रारंभ कर परंपरागत उद्योग को प्रोत्साहन दिया। बाजार उपलब्ध कराने के साथ उसे टेक्नोलाॅजी से जोड़ा। आज ओडीओपी देश की यूनिक योजना बन गई है। यह आत्मनिर्भर भारत की आधारशिला है। आज उप्र का एक्सपोर्ट भी बढ़ा है, 86 लाख करोड़ से बढ़कर लगभग दो लाख करोड़ हो गया।

मुख्यमंत्री ने बताया कि यूपी में बीते वर्ष ग्रेटर नोएडा में इंटरनेशनल ट्रेड शो का आयोजन हुआ था,जिसकी सफलता ने नया कीर्तिमान स्थापित किया। इसने यूपी के पोटिंशियल को प्रदर्शित करने का सशक्त मंच प्रदान किया। पहली बार 500 से अधिक विदेश बायर्स,70 हजार से लोग उसमें सहभागी बने और 3 लाख लोगों का फुट फॉल हुआ। उन्होंने बताया कि फिर से 25 से 29 सितंबर के बीच ग्रेटर नोएडा में इंटरनेशनल ट्रेड शो के द्वितीय संस्करण का आयोजन होगा। इसके जरिए एक बार फिर यूपी अपनी क्षमता का प्रदर्शन वैश्विक समाज के सामने करने जा रहा है।

इस बार उप्र इंटरनेशनल ट्रेड शो 25 सितंबर से

उद्यमियों को बाजार उपलब्ध कराने के लिए योगी सरकार की कर्टेन रेजर सेरेमनी नई पहल है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने वाले उप्र इंटरनेशनल ट्रेड शो की लघु फिल्म भी दिखाई गई। मुख्यमंत्री ने कहा कि व्यापार में तरक्की के लिए सितंबर 2023 में उत्तर प्रदेश इंटरनेशनल ट्रेड शो का पहला संस्करण भारत का पहला आयोजन था। इस बार नोएडा में इंडिया एक्सपो मार्ट में 25 से 29 सितंबर 2024 तक उप्र इंटरनेशनल ट्रेड शो का आयोजन किया जाएगा।

spot_imgspot_imgspot_img
इससे जुडी खबरें
spot_imgspot_imgspot_img

सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली खबर