HomeKolkataKolkata: शेख शाहजहां को लेकर बयानबाजी करने वाले मंत्री को तृणमूल ने...

Kolkata: शेख शाहजहां को लेकर बयानबाजी करने वाले मंत्री को तृणमूल ने किया सतर्क

कोलकाता:(Kolkata) ईडी अधिकारियों पर हमला मामले में कथित तौर पर मास्टरमाइंड रहे तृणमूल नेता शेख शाहजहां को लेकर बयानबाजी करने वाले तृणमूल नेता और राज्य के मंत्री अखिल गिरी को तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) ने सतर्क किया है। पश्चिम बंगाल के कारागार विभाग के प्रभारी राज्य मंत्री अखिल गिरी को भगोड़े पार्टी नेता और ईडी अधिकारियों पर हमले के मास्टरमाइंड शेख शाहजहां के वर्तमान ठिकाने के बारे में विवादास्पद टिप्पणी करने पर परिणाम भुगतने को कहा है।

पिछले गुरुवार को उन्होंने दावा किया था कि शाहजहां इस समय राज्य से बाहर हैं और इलाज करा रहे हैं। पार्टी के अंदरूनी सूत्रों ने कहा कि गिरि को कोलकाता नगर निगम (केएमसी) के मेयर फिरहाद हकीम के कार्यालय में बुलाया गया था, जहां हकीम ने मंत्री को समझाया कि कैसे उनकी टिप्पणियों ने पार्टी के लिए शर्मिंदगी पैदा कर दी है। मामले की जानकारी रखने वाले पार्टी के एक नेता ने सोमवार को बताया कि हकीम ने गिरि को भविष्य में ऐसी टिप्पणियां करने से परहेज करने की भी सलाह दी।

पार्टी के अंदरूनी सूत्रों के अनुसार, गिरि की टिप्पणियांं शर्मनाक हैं, क्योंकि पांच जनवरी को संदेशखली में ईडी और केंद्रीय बलों पर हमले के 23 दिन बाद भी, शाहजहां फरार रहने में कामयाब रहे हैं। विपक्षी दलों ने पहले ही दावा करना शुरू कर दिया है कि जब राज्य मंत्रिमंडल का एक सदस्य हमले के पीछे के मास्टरमाइंड के ठिकाने के बारे में इतना आश्वस्त है, तो पुलिस उसे पकड़ने में कैसे विफल हो सकती है। शनिवार को हकीम ने पार्टी नेतृत्व को शाहजहां से दूरी बनाने का संकेत देते हुए कहा कि शाहजहां ने जो किया वह एक अपराध के अलावा और कुछ नहीं है।

अब गिरि को शाहजहां के ठिकाने के संबंध में उनकी टिप्पणी के लिए चेतावनी दिए जाने के बाद, यह स्पष्ट हो गया है कि तृणमूल कांग्रेस इस मुद्दे पर बेहद सतर्क तरीके से कदम बढ़ा रही है। यह पहली बार नहीं है कि अखिल गिरि ने अपनी टिप्पणियों से पार्टी नेतृत्व के लिए शर्मिंदगी पैदा की है। इससे पहले वह राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के लुक को लेकर भी अपमानजनक टिप्पणी कर सुर्खियों में रह चुके हैं। बाद में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की धमक के बाद उन्हें सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी पड़ी थी।

सूत्रों ने यह भी बताया है कि अखिल गिरी की टिप्पणी के बाद उत्तर 24 परगना के शीर्ष प्रशासनिक अधिकारियों ने तृणमूल नेतृत्व से इस पर नाराजगी जताई थी। उन्होंने कहा था कि हम बार-बार कोर्ट में कह रहे हैं कि शाहजहां फरार हैं जबकि राज्य के मंत्री यह दावा कर रहे हैं कि उन्हें शाहजहां के बारे में पता है। यानी पुलिस अपने काम में विफल रह रही है, ऐसा संदेश राज्य सरकार की ओर से ही दिया जा रहा है। इसके बाद ही पार्टी नेतृत्व ने अखिल गिरी को सतर्क किया है।

spot_imgspot_imgspot_img
इससे जुडी खबरें
spot_imgspot_imgspot_img

सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली खबर