spot_img
Homecrime newsKanpur : शेयर ट्रेडिंग में मुनाफे का लालच देकर लाखों की ठगी...

Kanpur : शेयर ट्रेडिंग में मुनाफे का लालच देकर लाखों की ठगी करने वाला साइबर अपराधी गिरफ्तार

फर्जी मोबाइल एप व वेबसाइट के जरिए बनाता था लोगों को शिकार

कानपुर : पुलिस विभाग की साइबर टीम ने बुधवार को एक साइबर अपराधी को उस समय गिरफ्तार कर लिया जब वह अपने फ्रीज खाते को अनफ्रीज कराने कानपुर आया था। साइबर अपराधी ने कानपुर के कई लोगों को शेयर ट्रेडिंग में ज्यादा मुनाफा का लालच देकर सोशल मीडिया के जरिये फंसाया था। अपराधी ने पीड़ितों से लाखों रुपया क्राउन वर्ल्ड नामक फर्म एकाउंट में डलवा लिया था।

साइबर थाना प्रभारी हरमीत सिंह ने बुधवार को घटना का खुलासा करते हुए बताया कि दामोदर नगर थाना बर्रा निवासी धर्मेन्द्र कुमार वर्मा को सोशल मीडिया पर ट्रेडिंग में प्रोफिट का प्रचार दिखा जिस पर क्लिक करने पर उन्हे एक व्हाट्सएप मिला। व्हाट्सएप ग्रुप में पहले से जुड़े लोगों को ट्रेडिंग में इंवेस्टमेंट करने पर छोटे-छोटे प्रोफिट ग्रुप में ही शेयर किए जाते थे जिसे देखकर पीड़ित धर्मेन्द्र कुमार प्रधान को इस पर विश्वास हो गया। बाद में पीडित को आरके ट्रेडिंग नामक एप पर भी लाग-इन कराया गया जहां उन्हे यह बताया गया कि उन्हे ज्यादा कमीशन दिया जा रहा है।

इसी पर विश्वास करके पीड़ित अपने खाते से क्राउन वर्ल्ड नामक फर्म एकाउंट में पैसा डालता रहा। लेकिन जब कुछ दिन बाद पीड़ित को कोई पैसे नहीं मिले और उसे सारे ग्रुप्स से हटा दिया गया तो पीड़ित को अपने साथ हुए साइबर ठगी का एहसास हुआ। पीड़ित ने साइबर थाने में मुकदमा पंजीकृत कराया। इसी प्रकार शास्त्रीनगर निवासी धर्मेन्द्र आडवानी के साथ भी ऐसे ही ट्रेडिंग में ही इंवेस्टमेंट का लालच देकर 23 लाख 5 हजार रूपए की ठगी की गयी और उसने भी क्राउन वर्ल्ड नामक खाते में ही रुपया भेजा था। दोनों मुकदमों पर कार्रवाई करते हुए सभी लाभार्थी बैंक खाते को फ्रीज करा दिया गया। इस पर साइबर अपराधी कासगंज जनपद निवासी पवन दुबे फ्रीज खातों को अनफ्रीज कराने कानपुर आया और उसे गिरफ्तार कर लिया गया। पूछतांछ के बाद विधिक कार्रवाई करते हुए साइबर ठग को जेल भेजा जा रहा है।

spot_imgspot_imgspot_img
इससे जुडी खबरें
spot_imgspot_imgspot_img

सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली खबर