HomelatestMirzapur : प्रकृति में समता बनाने के लिए करें यूनानी चिकित्सा पद्धति...

Mirzapur : प्रकृति में समता बनाने के लिए करें यूनानी चिकित्सा पद्धति की उपयोग

राष्ट्रीय यूनानी दिवस पर कार्यक्रम, बताई उपयोगिता

मीरजापुर : आयुष विभाग एवं प्रशासन के समन्वय से रविवार को राजकीय यूनानी चिकित्सालय खजूरी के प्रांगड़ में राष्ट्रीय यूनानी दिवस का आयोजन किया गया। मुख्यातिथि जिला पंचायत अध्यक्ष राजू कनौजिया एवं विशिष्ट अतिथि परियोजना निदेशक अनय मिश्र रहे।

मुख्यातिथि ने यूनानी चिकित्सा पद्धति के प्रणेता स्व. मसीहुल मुल्क हकीम अजमल खान के जीवन परिचय पर प्रकाश डाला। उनके मार्ग का अनुसरण करते हुए पूरे भारत में यूनानी चिकित्सा पद्धति को बढ़ावा देने का आवाहन किया। क्षेत्रीय आयुर्वेदिक यूनानी अधिकारी डॉ. अजय कुमार गुप्ता ने यूनानी चिकित्सा पद्धति से संबंधित जिले में संचालित योजनाओं पर प्रकाश डाला एवं जनपद वासियों से बढ़कर उसका लाभ लेने का आह्वान किया।

यूनानी चिकित्सा अधिकारी हकीम समीरा हामिद ने प्रकृति में समता बनाने के लिए यूनानी चिकित्सा पद्धति की उपयोगिता पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर निःशुल्क यूनानी चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया एवं औषधि वाटिका में औषधीय पौधों का रोपण किया गया। साथ ही जिले के सभी आयुष हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर में औषधि वाटिका के निर्माण के लिए औषधिय पौधों का वितरण किया गया। कार्यक्रम का संचालन डां विवेक सिंह ने किया। इस दौरान डा. जितेन्द्र कुमार, मनोज कुमार सिंह, सर्वरे आलम, संतोष कुमार, पीयूष त्रिपाठी आदि चिकित्सक एवं विभागीय कर्मचारी मौजूद रहे।

spot_imgspot_imgspot_img
इससे जुडी खबरें
spot_imgspot_imgspot_img

सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली खबर