HomeHariyanaJhabua : लोकसभा चुनाव में वोट मांगने नहीं, बल्कि ईश्वर स्वरूप जनता...

Jhabua : लोकसभा चुनाव में वोट मांगने नहीं, बल्कि ईश्वर स्वरूप जनता जनार्दन को प्रणाम करने आया हूं: नरेन्द्र मोदी

झाबुआ : जनजातीय सम्मेलन के मौके पर मेरे यहां आने को लेकर विरोधियों ने यह कहना शुरू कर दिया कि मैं लोकसभा चुनाव का शंखनाद करने आया हूं, किंतु मैं वोट मांगने नहीं, बल्कि ईश्वर स्वरूप आप जनता जनार्दन को प्रणाम करने आया हूं।यह बात देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार दोपहर में जिले के ग्राम गोपालपुरा में आयोजित जनजातीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए कही।

प्रधानमंत्री जनजातीय सम्मेलन के मौके पर जब गोपालपुरा स्थित हेलीपेड पर पहुंचे तो पारम्परिक लोकनृत्य भगोरिया द्वारा उनका आत्मीय स्वागत किया गया। उनकी अगवानी के लिए पहले से ही मौजूद मध्यप्रदेश के राज्यपाल मंगू भाई पटेल, मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव, उप मुख्यमंत्री जगदीश देवड़ा, मुख्य सचिव वीरा राणा, सांसद वीडी शर्मा, सहित वरिष्ठ प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों ने उनकी अगवानी की। प्रधानमंत्री हैलीकॉप्टर द्वारा दोपहर गोपालपुरा हवाई पट्टी पर उतरे और रोड़ शो करते हुए जनजातीय सम्मेलन के मंच पर पहुंचे। रास्ते के दोनों तरफ बड़ी संख्या में मौजूद महिलाओं और पुरुषों ने प्रधानमंत्री का भावपूर्ण स्वागत अभिनन्दन करते हुए उनपर फूल बरसाए।

प्रधानमंत्री मोदी का आगमन और बड़ी भारी संख्या में जनजातीय समाज की मौजूदगी में उनका उद्बोधन सब कुछ ऐतिहासिक होता हुआ नज़र आया। इस सभा में जहां कैसरिया रंग अपने शबाब पर नजर आया, वहीं जिला मुख्यालय के करीब बसे गोपालपुरा गांव मोदी मय दिखाई दिया। प्रधानमंत्री के आने के साथ ही मोदी मोदी का उद्घोषित होता हुआ स्वर उनके उद्बोधन के बाद तक सुनाई देता रहा। प्रधानमंत्री द्वारा जनजातीय सम्मेलन के मंच से 7500 करोड़ रुपये की विभिन्न विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया गया। उन्होंने 170 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाले क्रांतिवीर टंट्या मामा भील के नाम से विश्व विद्यालय की आधारशिला भी रखी।

प्रधानमंत्री ने उपस्थित जन समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस ने आदिवासियों का उपयोग केवल वोट के लिए किया, जबकि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आदिवासियों को उनका अधिकार दिलाया। प्रधानमंत्री ने बड़ी संख्या में मौजूद लोगों से मन की बात करते हुए उनके मन में यह बात जमाने की सफल कौशिक की कि कांग्रेस द्वारा आदिवासियों को वोट बैंक के रूप में उपयोग किया जाता रहा, किंतु भाजपा ने उन्हें सम्मान देते हुए समर्थ बनाया।

प्रधानमंत्री ने भावपूर्ण अंदाज में कहा कि मेरी दृष्टि में गुजरात और झाबुआ में कोई भेद नहीं दिखाई दिया। अपने आरंभिक सेवाकाल के दौरान दाहोद के गांवों में जब मैं बच्चों को स्कूल जाने हेतु कई किलोमीटर की दूरी तय करते हुए देखता था, मुझे बड़ी तकलीफ़ होती थी, ओर तब दाहोद सहित झाबुआ जिले के आदिवासी परिवारों से इस बात की भीख मांगता था कि वो अपने बच्चों को पढ़ाएं। भाजपा ने आदिवासी इलाकों में शिक्षा के विकास पर ध्यान केंद्रित किया। उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षा प्राप्त करने हेतु आपके बच्चों को कहीं दूर जाना न पड़े, इसलिए देश में एक लाख एकलव्य आवासीय विद्यालय खोले जाने हेतु भाजपा सरकार कृत संकल्पित है, और आज झाबुआ में रखी जा रही टंट्या मामा भील विश्वविद्यालय की आधारशिला भाजपा के उसी संकल्प को पूरा करने की दिशा में एक बड़ा कदम है। क्षेत्र के आदिवासी बहुल जिलों के लिए समर्पित यह विश्वविद्यालय 170 करोड़ रुपए की लागत से विकसित होगा। यह विश्वविद्यालय छात्रों के समग्र विकास के लिए विश्व स्तरीय बुनियादी ढांचा प्रदान करेगा।

प्रधानमंत्री ने पिछली कांग्रेस सरकारों के कार्यकाल को प्रदेश के लिए काला अध्याय निरूपित करते हुए कहा कि कांग्रेस ने सत्ता में रहकर केवल लूट ओर फूट डालने का ही काम किया है। उन्होंने कहा कि लूट ओर फूट कांग्रेस का आक्सीजन है, जिसके नहीं मिलने पर उसका दम घुटने लगता है। कांग्रेस की ऐसी जनविरोधी नीतियों ने ओर उसके पापों ने उसे एक ऐसे दलदल में फंसा दिया है, जहां से वह जितना निकलने की कौशिश करेगी, उतना ही और फंसती जाएगी।

मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य बना दिया था, किंतु भाजपा की डबल इंजन सरकार ने मध्यप्रदेश को विकसित राज्य के रूप में खड़ा कर दिया। मोदी ने दिवंगत प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का उल्लेख करते हुए कहा कि उनके कार्य काल में आदिवासियों के लिए अलग से मंत्रालय बनाया गया और आपको आपके अधिकार दिलाए गए। उन्होंने उपस्थित जनजातीय समाज के लोगों को विश्वास दिलाते हुए कहा कि आपके और आपके बच्चों के उज्जवल भविष्य की गारंटी मैं लेता हूं।

मोदी ने विधानसभा चुनावों में समर्थन देने के लिए आभार व्यक्त करते हुए उपस्थित जन समुदाय को कहा कि अब तो कांग्रेस भी कहने लगी है कि भाजपा इस बार 400 पार। मोदी ने कहा कि यह तो हम भी जानते हैं, पर हमारा तो यही मानना है कि इस बार अकेले भाजपा 370 पार। साथ ही उन्होंने इसका मंत्र भी दिया कि यह काम आपको करना है। ओर वह यह है कि पिछले चुनाव में आपके बूथ पर जितने वोट भाजपा को मिले उसमें 370 ओर जोड़ देना है, तो निश्चित ही अबकी बार भाजपा अकेले 370 पार।

spot_imgspot_imgspot_img
इससे जुडी खबरें
spot_imgspot_imgspot_img

सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली खबर