spot_img
HomeBhopalBhopal : प्रधानमंत्री उत्कृष्टता महाविद्यालयों में इसी सत्र से शुरू होंगे रोजगारोन्मुखी...

Bhopal : प्रधानमंत्री उत्कृष्टता महाविद्यालयों में इसी सत्र से शुरू होंगे रोजगारोन्मुखी पाठ्यक्रम

उच्च शिक्षा विभाग ने इन महाविद्यालयों के शुभारंभ कार्यक्रम पूर्व जारी किए दिशा- निर्देश

भोपाल : मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के निर्देशानुसार उच्च शिक्षा विभाग के अंतर्गत समस्त 55 जिलों में प्रधानमंत्री उत्कृष्टता महाविद्यालयों में कौशल आधारित रोजगारोन्मुखी एवं नवीन पाठ्यक्रम शैक्षणिक सत्र 2024-25 प्रारंभ किए जाएंगे। प्रदेश के सभी 55 जिलों में प्रधानमंत्री उत्कृष्टता महाविद्यालयों के शुभारंभ कार्यक्रम एक जुलाई को आयोजित किए जाएंगे। उक्त कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए बुधवार को उच्च शिक्षा विभाग ने आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए हैं।

इसके अनुसार समस्त प्रधानमंत्री उत्कृष्टता महाविद्यालयों में आई.आई.टी. दिल्ली के सहयोग से आधुनिकतम आई.टी. पाठ्यक्रम (Artificial Intelligence तथा Fintech with A.I.) प्रारंभ किए जाएंगे। समस्त प्रधानमंत्री उत्कृष्टता महाविद्यालयों में बीएड पाठ्यक्रम संचालित होंगे। रोजगार आधारित डिग्री/डिप्लोमा पाठ्यक्रम प्रधानमंत्री उत्कृष्टता महाविद्यालयों एवं सभी सामान्य (शास.) विश्वविद्यालयों में प्रारंभ होंगे। वर्तमान में उज्जैन, जबलपुर एवं भोपाल स्थित शासकीय विश्वविद्यालयों में बीएससी (एजी) पाठ्यक्रम संचालित हैं, ये पाठ्यक्रम प्रदेश के शेष सामान्य (शासकीय) महाविद्यालयों में और शासकीय स्वशासी महाविद्यालयों में भी प्रारंभ किया जाएगा। विमानन संबंधी पाठ्यक्रम शुरू करने के लिए विश्वविद्यालय स्तर पर त्वरित कार्रवाई किए जाने को कहा गया है, इससे ये पाठ्यक्रम अकादमिक सत्र 2024-25 से प्रारंभ होना संभव हो सके।

जारी निर्देशों के अनुसार महाविद्यालयों में एक जुलाई के पूर्व भवन की मरम्मत, साफ-सफाई, रंगाई पुताई आदि कार्य करने होंगे। हिन्दी ग्रंथ अकादमी का काउंटर/पुस्तक विक्रय केन्द्र, भारतीय ज्ञान परंपरा का केन्द्र, विवेकानंद संसाधन केन्द्र के कार्यों का कैलेंडर, नवीन पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश तथा पठन-पाठन की तैयारियां सुनिश्चित करने को कहा गया है। उक्त महाविद्यालयों में विद्यार्थियों की सुविधा के लिए बस सुविधा न्यूनतम शुल्क आधार पर एक जुलाई से शुरू किए जाने भी कहा गया है। प्रधानमंत्री उत्कृष्टता महाविद्यालयों में आगामी 2-3 माह में नवीन पाठ्यक्रमों में प्रवेश / पठन-पाठन की व्यवस्था, मेरिट आधार पर शैक्षणिक अमले की पद स्थापना/प्रशिक्षण, शोध केंद्रों की स्थापना, प्रयोगशालाओं, खेल सुविधाओं एवं फर्नीचर आदि की मानदंड अनुसार उपलब्धता, DPR अनुसार अधोसंरचना कार्यों की स्वीकृति/कार्यादेश और विद्यावन के लिए स्थान चिन्हांकन एवं पौधरोपण के निर्देश दिए गए है।

प्रदेश के 55 में से 24 प्रधानमंत्री उत्कृष्टता महाविद्यालयों में नेक ग्रेडिंग हो चुकी है, शेष महाविद्यालयों में 31 जुलाई 2024 तक इसी शैक्षणिक सत्र में उक्त महाविद्यालयों की नेक ग्रेडिंग कराने के निर्देश दिए गए हैं। स्वामी विवेकानंद संसाधन केन्द्र की त्रैमासिक गतिविधियों का कैलेंडर के अनुसार विस्तृत कार्य योजना तैयार करना, कैरियर मेला/प्लेसमेंट ड्राइव के लिए बड़ी कंपनियों के साथ अनुबंध (एम.ओ.यू.) सुनिश्चित किए जाने के लिए भी निर्देशित किया गया है।

spot_imgspot_imgspot_img
इससे जुडी खबरें
spot_imgspot_imgspot_img

सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली खबर