नरेंद्र पुरोहित, संरक्षक

समाजसेवी, गौभक्त, कला-संस्कृति पोषक, व्यापारी, बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी। अपनी बेहतर समझ से एक आम व्यक्ति से जाने माने व्यापारी तक का सफर कुछ ही समय में किया। अपनी सारी व्यस्तता के बावजूद हर महीने राजस्थान की गौशाला जाकर गौसेवा करने का समय निकलते हैं। मूलतः राजस्थान के रहने वाले हैं। मुंबई में व्यापार करते हैं। लोक-संस्कृति के पोषक हैं। इनके हर कार्य में धर्म-परायणता की सीमा रेखाएँ स्पष्ट देखी जा सकती है। समाजिक कार्यो में महत्वपूर्ण योगदान

अरुण लाल: समूह संपादक

विगत 15 वर्षों से लेखन और पत्रकारिता में सक्रिय। ‘राजस्थान पत्रिका’, ‘दैनिक भास्कर-अहा जिंदगी’, ‘नवभारत’, ‘हमारा महानगर’ के संपादकीय विभाग में विभिन्न महत्वपूर्ण पदों पर काबिज होकर अपनी पत्रकारिता और लेखन प्रतिभा का कौशल दिखाते रहे हैं। ‘फेमिना हिंदी’, ‘मेरी सहेली, ‘दैनिक भास्कर ‘लक्ष्य’ के लिए तमाम चर्चित कॉलम लिखते रहे हैं। साथ ही कई राष्ट्रीय समाचारपत्रों-पत्रिकाओं-वेबसाइट्स के लिए स्वत्रंत्र लेखन करते रहे हैं। रिसर्च बेस्ड रिपोर्टिंग के लिए खासतौर पर जाने जाने हैं।

राजा आदाटे: कार्यकारी संपादक

मुंबई में रहकर पत्रकारिता का लंबा अनुभव। विगत 20 वर्षों से लेखन और पत्रकारिता में सक्रिय। ‘दैनिक पुढारी’ में स्पेशल कोरेस्पोंडेंट (पॉलिटिकल) के रूप में लम्बे समय तक कार्यरत रहे। दैनिक नवराष्ट्र में राजकीय संपादक, दैनिक जनशक्ति में वृत्त संपादक, दैनिक पुढारी में पॉलिटिकल ब्यूरो चीफ पर कार्यरत। दैनिक तरूण भारत, आज दिनांक, दैनिक महानगर, माझा महानगर, महाशक्ति, दैनिक लोकनायक, दैनिक कोकण सकाळ समेत कई लीडिंग समाचारपत्रों में विभिन्न पदों पर कार्यरत।

धीरज सिंह: समाचार संपादक

विगत 15 वर्षों से लेखन और पत्रकारिता में सक्रिय हैं। ‘राजस्थान पत्रिका’, ‘हमारा महानगर’, ‘खबरें आज तक’, मेट्रो सेवन डेज, दबंग दुनिया और ‘एब्सोल्यूट इंडिया’ समेत देश के प्रमुख समाचारपत्रों के लिए रिपोर्टिंग करते रहे हैं। रिसर्च बेस्ड रिपोर्टिंग, पॉजिटिव स्टोरीज, हेल्थ और आध्यात्म पर लेख लिखने का गहरा अनुभव। उन्हें बीएमसी की रिपोर्टिंग करने का गहरा अनुभव है। राजनीति, कृषि अर्थव्‍यवस्‍था और साहित्‍य-संस्‍कृति के अनेक प्रासंगिक विषयों पर उन्होंने असरदार रिपोर्ट लिखी हैं।